सम्राट कनिष्क जाट बादशाह। राजस्थान

गुर्जर महासभा अपना ध्यान इधर लगावे और जाट गुर्जर भाईचारे में की आड़ में जो जाट इतिहास के और जाट राजाओं के सेध लगाई जा रही है उसे बचे और हम आपसे खुली बहस के लिए तैयार हैं.

 संक्षिप्त परिचय- सम्राट कनिष्क का जन्म पेशावर पाकिस्तान में हुआ और मृत्यु 144 ad में हुई दूसरी शताब्दी में कनिश्क़ कुशान कास्वान  जाट वंश भारत में एक महत्वपूर्ण स्थान रखता है.

parents -विमा कद्फिसेस

successor -हुविश्का
predecessor -विमा कद्फिसेस
religion -महायान  Buddhist

race -जाट.

clan -कास्वान.

रामस्वरूप जून के कथन के अनुसार दूसरी शताब्दी का महान नायक भारत में सम्राट कनिष्क कास्वान जाट हुए इनके सेनापति का नाम हागा था जिनके आगे आज जाटों में हगा चौधरियों के नाम पर लगभग डेढ़ सौ गांव हैं जिनमें से 80 गांव तो अकेले मथुरा जिले में है.  उनके पूर्वज मिहिर अर्थार्थ सूर्य को मानने की वजह से सूर्यवंशी भी कहलाते थे. इन्होंने बाद में बौद्ध धर्म मान लिया और इनके टाइम पर ही महायान और हीनयान नाम के दो बौद्ध संप्रदाय बन गए अर्थात बौद्ध धर्म के दो हिस्से हुए थे. इनको पूरी दुनिया युची यायुची या yuti लिखती है और भारत में इन चाइनीस श…

भारतीय किसान एकता

थर्ट फ्रंट की बनी हूई शक्ति को सुरक्षित रखने के लिए रणजीत सिंह रणंवा की भूमिका स्वीकार करने में ही राजस्थान का हित होगा,,,,      
(1) रणंवा साहब के कमान सभांलने पर थर्ट फ्रंट में इगो की समस्या नही रहेगी ये थर्ट फ्रंट के सभी नेताओं का स्वीकार्य है सिवाय कॉग्रेंस भाजपा के गुप्तचरों के!!                            
(2)सादगी पूर्ण जीवन शैली पक्के सिद्धान्त वादी.                     (3)बेजोड़ रणनिति कार.            
 (4)कोई भी दाग धब्बा व भ्रष्टाचार का आरोप नही.                
(5)सर्व वर्ग के विकास पर हमेशा विचार विमर्श करने वाले.      
(6)मिशन 2018 किसान सरकार में विश्वासनिय पथ की और.                                       (7)राजस्थान के हर वर्ग प्रत्येक समुदाय में जान पहचान.
(8)किसानों के हित में सदैव तत्पर खड़े रहने वाले.    
(9)निसर्वाथ भाव से कार्य करने वाले.
(10)मजबूत और विश्वास मित्र युवाओं की टीम का नेतृत्व करने वाले.
(11) 40 साल का राजनितिक तर्जुबा.
(12) किसी भी किमत पर कॉग्रेंस भाजपा भ्रष्टवादी सरकार को नहीं अपनाया.
(13)साफ सूथरी छवी निर्डरता से कार्य करने वाले.
(14) जातिवाद या धर्मवाद के प्रति एक भी शब्द नहीं दोहराया.
जन जन के आदरणीय सेवाभावी लोकप्रिय नेता रणजीत सिंह रणंवा के नेतृत्व में जो कार्य होगा वो भ्रष्टाचार व कूटनिति के माध्यम से नही हो सकता एक स्वच्छ राजनिति ज्ञाता है और इनको थ्रट फ्रंट की कमान दी जाये!!!

              जय जवान जय किसान
              भारतीय किसान एकता
                     

Comments

Popular posts from this blog

पोस्ट छोटी सी हे पर समाज के लिए सही हे।

युवा दिलों की धड़कन व ताकत हनुमान जी बेनीवाल का बड़ा फैसला ।

27,सितम्बर 2018.पुंदलौता का इतिहास गौरव यात्रा