Posts

Showing posts from September, 2018

सम्राट कनिष्क जाट बादशाह। राजस्थान

गुर्जर महासभा अपना ध्यान इधर लगावे और जाट गुर्जर भाईचारे में की आड़ में जो जाट इतिहास के और जाट राजाओं के सेध लगाई जा रही है उसे बचे और हम आपसे खुली बहस के लिए तैयार हैं.

 संक्षिप्त परिचय- सम्राट कनिष्क का जन्म पेशावर पाकिस्तान में हुआ और मृत्यु 144 ad में हुई दूसरी शताब्दी में कनिश्क़ कुशान कास्वान  जाट वंश भारत में एक महत्वपूर्ण स्थान रखता है.

parents -विमा कद्फिसेस

successor -हुविश्का
predecessor -विमा कद्फिसेस
religion -महायान  Buddhist

race -जाट.

clan -कास्वान.

रामस्वरूप जून के कथन के अनुसार दूसरी शताब्दी का महान नायक भारत में सम्राट कनिष्क कास्वान जाट हुए इनके सेनापति का नाम हागा था जिनके आगे आज जाटों में हगा चौधरियों के नाम पर लगभग डेढ़ सौ गांव हैं जिनमें से 80 गांव तो अकेले मथुरा जिले में है.  उनके पूर्वज मिहिर अर्थार्थ सूर्य को मानने की वजह से सूर्यवंशी भी कहलाते थे. इन्होंने बाद में बौद्ध धर्म मान लिया और इनके टाइम पर ही महायान और हीनयान नाम के दो बौद्ध संप्रदाय बन गए अर्थात बौद्ध धर्म के दो हिस्से हुए थे. इनको पूरी दुनिया युची यायुची या yuti लिखती है और भारत में इन चाइनीस श…

खींवसर विधायक हनुमान जी बेनीवाल का बड़ा धमाका जयपुर व दिल्ली में।

राजस्थान में निर्दलीय विधायक #हनुमान_बेनीवाल करेगे बड़ा धमाका..
News-New Delhi/Jaipur
खींवसर से निर्दलीय विधायक हनुमान बेनीवाल अब #राजस्थान की राजनीति में बड़ा धमाका करने जा रहे है। माना जा रहा है कि अब हनुमान बेनीवाल जल्द ही अपनी पार्टी से पर्दा उठा लेगें साथ ही कई सीटों पर उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर देगें।
बगला नं B-7 मे बढी हलचल..
हनुमान बेनीवाल के जालूपुरा जयपुर मे स्थित बगला न.B-7 की बढी हलचल इस बात को और पुख्ता कर रही हैं विधायक हनुमान बेनीवाल जल्द ही बड़ी घोषणा करेगें।
बगला नं B-7 में बने कार्यालय में भी अब दिन रात कार्य चल रहा है। व कार्यकर्ताओं की लगातार बैठकों का दौर जारी है ।
अक्टूबर के मध्य मे करेगें जयपुर के इतिहास की सबसे बड़ी रैली।
विधायक हनुमान बेनीवाल के द्वारा जयपुर में प्रस्तावित महारैली की तैयारियां भी शुरू कर दी है जो अक्टूबर के अन्तिम सप्ताह में कर सकते है। जो जयपुर के इतिहास की सबसे बड़ी रैली हो सकती हैं।
निर्दलीय विधायक की तैयारियां देखकर कांग्रेस-बीजेपी परेशान..
आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर विधायक हनुमान बेनीवाल की चल रही तैयारियों से अब कांग्रेस-भाजपा के …

पोस्ट छोटी सी हे पर समाज के लिए सही हे।

मधुबनी जिले में सभी समाज को सूचित किया जाता है कि आज कोट ने ये फैसला किया कि कुँवारी लड़की के पास अगर मोबाइल मिले तो उस के माँ बाप से 51000 हजार रुपए दंड किया जायेगा और शादी सुदा लड़कियों के पास सिम्पल कीपैड वाला मोबाइल ही होना चाहिए अगर टच वाला मिला तो 100000 रु दंड किया जायेगा नियम का पालन नहीं करने वालो को समाज से बाहर किया जायेगा और समाज को सुचना देने वालो का नाम गुप्त रखा जाएगा समस्त  जिले के सभी भाई बन्धुओ से निवेदन है कि इसे शेयर जरूर करे 27--9--2018
धन्यवाद
जय हो मोदी
( यह सुचना सभी भाइयो पर लागू हे )

मेरी जंग कुशासन ओर भ्रष्टाचार व चोरो पर हे।

*मेरी जंग कुशासन और भ्रष्टाचार के खिलाफ है: मुकुल पंकज चौधरी*

*खबर टुडे@जयपुर।*  वक्त किसी का सगा नहीं होता और सच हमेशा जीतता है। भ्रष्टाचार के खिलाफ सालों से जंग लड़ रहे परिवार से ताल्लुक रखने वाली मुकुल पंकज चौधरी झालरापाटन के लिए बड़ा विकल्प बनकर उभरी हैं। वसुंधरा राजे को आगामी चुनावों में शिकस्त देने के मुकुल के इरादे कहीं कमजोर नहीं पड़ते। अब देखना ये है कि मुकुल के डर से राजे सीट छोड़कर झालरापाटन से कहीं और जाएंगी या फिर कड़ी टक्कर के लिए खुद को तैयार कर पाएंगी। राजनीति की चौसर अब जमने लगी है। बड़े नेताओं और पार्टियों में हड़कंप है। बदलाव की आहट बढ़ती जा रही है। सत्ताधारी पार्टी में डर और जुड़ाव रखनेवाले नेताओं में फिर से जनता से जुड़ने का अवसर हिलोरे ले रहा है। भ्रष्ट और संवेदनशील शासन के अंतर को अब वोटर समझ रहे हैं। ऐसे में बदलाव ही विकल्प है। भ्रष्टाचार के खिलाफ प्रदेशव्यापी मुहिम में अपना सब कुछ दांव पर लगाने वाले परिवार से ताल्लुक रखने वाली मुकुल पंकज चौधरी ने राजनीति में उतरने का बड़ा फैसला लेकर देश की ब्यूरोक्रेसी ही नहीं बल्कि जयपुर से लेकर दिल्ली तक के राजनैतिक गलियारे में हलचल म…

27,सितम्बर 2018.पुंदलौता का इतिहास गौरव यात्रा

पुदंलौता गांव के किसान केसरी श्री रामरुघनाथ जी कीलक साब की मुर्ति अनावरण  मे राजस्थान की मुख्यमंत्री  श्रीमती वसुंधरा राजे जी का जोरदार स्वागत किया गया और हमारे माननीय श्रीअजयसीह जी कीलक ने पुरे नागौर जिले को आमंत्रित किया ओर उनके  मान सम्मान में बहुत ही ज्यादा मात्रा में आदमी इकट्ठे हुए थे और #छुए_है_अभी_कुछ_मुकाम
#अभी_तो_कारवां_बाकी_है l
#यह_तो_एक_झोकां_था_हवा_का, #अभी_तो_सारा_तूफान_बाकी_है !

#बोल_रहे_थे_जो_इतने_दिन_आज_वो_चुप_है
#क्योकि_आज_शांत_समुद्र_ने_जलजले_का_रूप_लिया_है

#कहो_दिल_से_अजय_सिंह_किलक_फिर_से l

पिछले साढ़े 4 वर्षों में प्रदेशभर में कराए गए विकास कार्यों का लेखा-जोखा बताने राजस्थान गौरव यात्रा मेड़ता सिटी के बाद डेगाना पहुंची, जहां बड़ी संख्या में पधारी उत्साहित जनता के आत्मीय स्वागत को देखकर मन प्रसन्न हो गया। इस दौरान पूर्व सांसद रहे स्व. श्री रामरघुनाथ चौधरी जी की मूर्ति अनावरण कार्यक्रम में माननीय मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे जी के कर कमलो द्वारा अनावरण किया गया ।

इस अवसर पर माननीय मुख्यमंत्री जी ने बताया नागौर जिला राजस्थान का दिल है, इस नाते यहां की जनता मेर…

दहेज प्रथा

" जो लोग लडका और लडकी के परिवार पर दहेज़ के लिए भिन्न भिन्न विचार रख रहे हैं वो क्रपया पढें।
शादी का एफिडेबिट"☺👌👌👌

आज निशा जी और अमरनाथ जी के छोटे बेटे अभिषेक के लिए लड़की देखने जाना था। सुबह से सब तैयारियों में लगे थे,अमरनाथ जी ने निशा जी को आवाज़ लगाई 'तैयार हो गए सब तो चलें'?
   निशा जी एक पारंपरिक घरेलू महिला है। ज्यादा पढाई तो नहीं कर पाईं, मगर हाँ उनकी बौद्धिक क्षमता से परिवार वाले भली भांति परिचित थे। अमरनाथ जी उनके तो क्या कहने, ज्ञान का भंडार थे। उच्च शिक्षित और उच्च विचारधाराओं के धनी । इन विषमताओं के बावजूद दोनों ने एक आदर्श पति पत्नी की छवि बनाई थी। निशा जी भी सामाजिक मापदंडों पर खरी उतरने वाली एक आदर्श महिला थी।
    सब गाड़ी में बैठ कर चल दिए और निशा जी अपने अतीत में  खो गयी। अक्सर ये होता है कि यात्रा करते वक्त अतीत जरूर सामने आता है , निशा जी को भी याद आया जब वो ब्याह कर इस घर में आईं थी ,सास को बिलकुल नहीं भांती थी । उनकी सास थोड़ी सख्त मिज़ाज थी और बात बात पर ताने उलाहने देना उनकी आदत थी।बहू मतलब घर की नौकरानी जिसे मुँह खोलने की आज़ादी ना थी । घर में…

शिक्षक लोग ध्यान दे गरीब बच्चों पर

"एक आठ दस साल की मासूम सी गरीब लड़कीं बुक स्टोर पर जाती है और एक पेंसिल और एक दस रुपए वाली कापी खरीदती है और फिर वही खड़ी होकर कहती है अंकल एक काम कहूँ करोगे ?

जी बेटा बोलो क्या काम है ?

अंकल वह कलर पेंसिल का पैकेट कितने का है, मुझे चाहिए, ड्रॉइंग टीचर बहुत मारती है मगर मेरे पास इतने पैसे नही है, ना ही अम्मी अब्बू के पास है, में आहिस्ता-आहिस्ता करके पैसे दे दूंगी।

शॉप कीपर की आंखे नम हो जाती बोलता है बेटा कोई बात नही ये कलर पेंसिल का पैकेट ले जाओ लेकिन आइंदा किसी भी दुकानदार से इस तरह कोई चीज़ मत मांगना, लोग बहुत बुरे है, किसी पर भरोसा मत कीया करो।

जी अंकल बहुत बहुत शुक्रिया में आप के पैसे जल्द दे दूंगी और बच्ची चली जाती है। इधर शॉप कीपर ये सोच रहा होता है कि भगवान ना करे अगर ऐसी बच्चियां किसी वहशी दुकानदार के हत्ते चढ़ गई तो ...?

शिक्षको से गुजारिश है अगर कोई बच्चा कापी पेंसिल कलर पेंसिल वगैराह नही ला पाता तो जानने की कोशिश कीजिये के कही उसकी गरीबी उसके आड़े तो नही आ रही। और हो सके तो ऐसे मासूम बच्चों की पढ़ाई के खातिर आप शिक्षक लोग मिल कर उठा लिया करें। यक़ीन जानिए हज़ारों लाखो की तनख…

एक ऐसा योद्धा जीसे कोई जीत नही पाया

वीर शिरोमणि:-महाराणा प्रताप बाल्य जीवन:
सिसोदिया वंश के सूरज राणा प्रताप का जन्म 9 मई,सन 1540 (विक्रमी संवत 1597, जयेष्ट सुदी 3, रविवार) को अपनी ननिहाल पाली में हुआ था.

उनके पिता राणा उदय सिंह एक महान योद्धा थे. महराणा उदय सिंह की जीवन रक्षा की कहानी पन्ना धाय से जुडी हुई है, उदय सिंह के पिता राणा रतन सिंह के मृत्यु के पश्चात उदय सिंह के बड़े भाई विक्रमादित्य ने राजगद्दी संभाली.

विक्रमादित्य अभी थोड़े छोटे थे इसलिए उनकी देखरेख का जिम्मा बनवीर को दिया गया, लेकिन थोड़े ही दिन में बनवीर के मन में राजगद्दी हथियाने के इच्छा जागृत हो गयी.

उसने कुछ सामंत को अपने में मिला लिया और जो सामंत उनके विरुद्ध गए उनकी हत्या कर दिया. उसके बाद उसने विक्रमादित्य को भी मार डाला, और फिर चल दिया मेवाड़ के एकलौते वरिश उदय सिंह की हत्या करने.

उस समय उदय सिंह सो रहे थे और हाथ में नंगी तलवार लिए बनवीर उदय सिंह को मारने आ रहा था, अचानक से महल में हलचल पैदा हो गयी और ये समाचार पन्ना धाय तक भी पहुँच गयी, उस समय पन्ना धाय ने एक ऐसा बलिदान दिया जो की इतिहास में आज तक किसी ने न दिया होगा, उन्होंने उदय सिंह और अपने पुत्र…

गोतम बुद्ध का जीवन काल

गौतम बुद्ध की जन्म-कथा

जैसे ही गौतम गर्भस्थ हुए उसी क्षण बत्तीस प्रकार की दैविक घटनाएँ घटित हुई थी जिनमें भूचालच; दस हज़ार लोकों में अचानक रोशनी का फैलाव और नरक की अग्नि का शमन उल्लेखनीय हैं।

दस महीनों के बाद लुम्बिनी के एक उपवन में गौतम का जन्म हुआ। कहा जाता है, शिशु के जन्म चार महाब्रह्मों द्वारा बिधायी गयी स्वर्ण-जाल में हुआ था तथा दैवी-बारिश में उनका स्नान हुआ था। जन्म लेने के साथ ही शिशु ने सात पग बढाए थे और सिंहनाद करते हुए स्वयं का परिचय लोक नाथ के रुप में दिया था। जिस दिन गौतम का जन्म हुआ था उसी दिन बोधि-वृक्ष; राहुलमाता (यशोधरा); अश्व; सारथी धन्न; उनका हाथी और सात प्रकार के बहुमूल्य कोश भी उत्पन्न हुए थे।
गौतम की बुद्धत्व प्राप्ति

कपिलवस्तु के शाक्यवंशीय राजा सुद्धोदन और महिषी महामाया के पुत्र सिद्धार्थ गौतम (संस्कृत व हिन्दी : सिद्धार्थ गौतम झ्र५६३ ई.पू.- ४८७ ई.पू. का जन्म वैशाख-पूर्णिमा के दिन लुम्बिनी के उपवन में स्थित एक साल-वृक्ष के नीचे हुआ था जब उनकी माता अपने माता-पिता से मिलने अपने मायके देवदह जा रही था।

पुत्र-जन्म के तत्काल बाद महामाया वापिस कपिलवस्तु लौट आयी थी। ता…

बी एस एफ के जवान की कुर्बानी

सोनीपत के थाना कलां गाँव के बीएसएफ के जवान नरेंद्र कुमार शहीद हो गए हैं। कल सुबह बॉर्डर पर वह और उनकी टीम गश्त कर रही थी, उसी समय पाकिस्तानी सैनिकों ने गोलाबारी की और पाकिस्तानी सेना की बैट टीम ने घात लगाकर हमला कर दिया, हमले में नरेंद्र कुमार घायल हो गए, बीएसएफ की तरफ से जवाबी कारवाई करने के बाद पाकिस्तानी सैनिक भाग निकले लेकिन वो घायल सैनिक नरेंद्र सिंह को अपने साथ बॉर्डर के उस पार ले गए। वहां नरेंद्र कुमार को टॉर्चर किया गया और उनकी दोनों आंखें निकाल ली गयी, गला काट दिया गया और तीन गोली मारी गयी। उसके बाद उनके शव को बॉर्डर के पास पाकिस्तानियों ने फेंक दिया। रात को एक रिस्क भरे अभियान में बीएसएफ के जवानों ने इनके पार्थिव शरीर को ढूंढा और वापस पोस्ट पर ले कर आये।
पाकिस्तान द्वारा की गई इस कायरतापूर्ण घटना का मुंहतोड़ जवाब दिए जाने की जरूरत है।
शहीद जवान को श्रद्धांजलि और उनके परिवार को ईश्वर हिम्मत दे🙏🇮🇳🇮🇳

दोनो पार्टियों को करो बहिष्कार।

कॉग्रेंस एक जड़ है और बीजेपी तना जब जब तक आप जड़ो को खत्म नही करोगे तब तक तना नही खत्म होगा इसिलिए आप लोग मिलकर केवल बीजेपी सरकार का ही नही सबसे पहले कॉग्रेंस का बहिष्कार करें
जब कॉग्रेंस मिट जायेगी तो भाजपा भी समाप्त हो जायेगी उसके बाद पेड़ पर लगने वाले फल फूल जैसे
धर्मवाद जातिवाद अन्याय अनिति अत्याचार बलात्कार देशद्रोही आतंकवाद जुम्लेबाज खोखले वादे अशिक्षा गरीबी यह सारे मशले खत्म हो जायेंगे!!!

अगर देश में शान्ति व्यवस्था चाहते हो तो इन दोनों पार्टीयों के नेताओं का बहिष्कार करो अगर इन पार्टीयों में सम्मिलित कोई अच्छा नेता है तो उसे निर्दलिए जिताओं मगर इन दो पार्टीयों के नाम पर तो अपना भाई भी चुनाव लड़े तो उसे भी वोट मत दो फिर देखो देश का भविष्य कैसा बनता है!!


एक नजर कांग्रेस की संकल्प रेली पर

#कॉग्रेंस_संकल्प_रैली

एक और भाजपा सरकार पश्चिम से पूर्व की और गौरव यात्रा निकाल रही है तो दूसरी और कॉग्रेंस उतर से दक्षिण संकल्प यात्रा,,,,,,,

                 चलिय तर्क करतें
Sc St समाज भाजपा के खिलाफ होकर कॉग्रेंस की रैली में भाग ले रहै है जैसे दलितों की महिसा कॉग्रेंस है मगर सत्य क्या,,,

डॉ.भीमराव अम्बेडकर को भारत रत्न नहीं मिला कॉग्रेंस की वजह से
दो वोट का अधिकार छीना कॉग्रेंस ने
Sc St एक्ट की सर्वे प्रथम छेड़छाड़ 1993 में की कॉग्रेंस ने
बसपा सपा को अलग कर बसपा को कमजोर किया कॉग्रेंस ने
इनेलो बसपा को अलग किया कॉग्रेंस ने
मायावती की सरकार बनी तब यूपी में 1लाख से ज्यादा दलितों के कैस की फाईले बन्द थी वजह कॉग्रेंस
मायावती के खिलाफ 2011 में यूपी की सड़को पर विरोध किसने किया सोनियां गांधी राहूल गांधी ने
बसपा की सरकार को गिराने के लिए कठोर नितियां अपनाकर सपा को लाने वाली कॉग्रेंस
दलितों को जगाने के लिए जब भी कोई नेता मजबूत बना तो कॉग्रेंस ने अपने शिकंजे मे ले लिया

और आज दलित समाज के नेता भाजपा विरोधी बनकर कॉग्रेंस मे जश्न मना रहै क्योंकि दलाल कभी आजाद नहीं होते वो केवल गुलामी के मार्ग …

बीपीएल पार्टी जिन्दा बाद

बीपीएल पार्टी जिन्दाबाद
   पांच रुपये Pentrol पर क्या बढ गये देश में हाहाकार मचा के रख दिया है और इतने सालों तक cong.ने लूटा है वो क्या उनके बाप की जागीर थी क्या उनसे तो कभी आपने कुछ नहीं पूछा क्यों

लुटेरो की जुबान अगर विपक्षियों पर लूट का आरोप लगाये तो क्या अपने आप को देशभक्त साबित कर पायेगें नहीं ना,,,,

कॉग्रेंस:-1880  यानि पूरे 138 साल से भारत को लूट रही है और कुछ चमचे कह रहै है नही नही बीजेपी ने देश लूटा,,
अगर बीजेपी ने देश लूटा तो तुमने कौनसा पूण्य कमाया हर जगह हर चुनाव हर राज्यो में गिरगिट की तरह रंग बदला और जनता को पहले हिन्दू मुस्लिम में बांट कर भारत पाक का विभाजन करवाया फिर दलित स्वर्ण में 1993 में विभाजन किया,,

अगर बिमारी को खत्म करना है तो सबसे पहले जड़ यानि कॉग्रेंस को राजस्थान की पावन धरा से बाहर करो फिर बीजेपी बाहर अपने आप हो जायेगी!!वैसे बीजेपी की जड़े इतनी मजबूत नही उसे बस थौड़े से हवा के झौके की जरूरत है भाग जायेगी!!

आजाद भारत की एक मात्र परिवारवादी यानि गांधी परिवार के इशारों पर नाचने वाली पार्टी है कॉग्रेंस और इसके अन्दर बैठे नेता कठपूटली है जिन्हें जब चाहे तब नचा …

मोदी जी की मन की बात

*शक्कर 45 से 31 हो गई, मिठाई खाओ*
*क्या पेट्रोल-डीजल को रो रहे हो.*.

*दालें 125 से 60 पर आ गई,*
*दाल तड़का खाओ,*
*क्या पेट्रोल-डीजल को रो रहे हो

*4 साल पहले 2 लाख रुपये का इंश्योरैंस 5000/- से 6000/- में मिलता था, आज 330/- प्रति वर्ष में मिलता है, लेकिन पीना तो पेट्रोल है*

: *#सीमेंट की कीमत रुपये में - भारत 250;  नेपाल 600; बांग्लादेश 500; श्रीलंका 500 लेकिन पीना तो #पेट्रोल है!?*

*4 साल पहले 1000 Km के हवाई सफर का किराया ~5000/- था, आज 4 साल बाद लगभग 3400 है। लेकिन पीना तो पेट्रोल है*

*प्याज 45 से 8 हो गया,*
*ओनियन उत्तपम खाओ,*
*क्या पेट्रोल-डीजल को रो रहे हो.*.

*4 साल पहले जो LED बल्ब 400/- का मिलता था, आज वो 60/- का मिल रहा है, लेकिन पीना तो पेट्रोल है*

*4 साल पहले लाल चौक पे भारत माता जी जय बोलना गुनाह था आज उसी लाल चौक पे राम दरबार लगता है, लेकिन पीना तो पेट्रोल है*

*जब टमाटर 100रुपये किलो थे,*
*तब चिल्ला रहे थे टमाटर महंगे हैं।*
*अब 15 रुपये किलो है।*
*अब खरीद लो और बाकि 85रु बचे उसका पेट्रोल भरवा लो*


 *4 साल पहले रेलवे स्टेशन पर सीढ़ी पर चल कर जाना पड़ता था, आज एक्सीलेटर पर चढ़ …

भारतीय किसान एकता

थर्ट फ्रंट की बनी हूई शक्ति को सुरक्षित रखने के लिए रणजीत सिंह रणंवा की भूमिका स्वीकार करने में ही राजस्थान का हित होगा,,,,      
(1) रणंवा साहब के कमान सभांलने पर थर्ट फ्रंट में इगो की समस्या नही रहेगी ये थर्ट फ्रंट के सभी नेताओं का स्वीकार्य है सिवाय कॉग्रेंस भाजपा के गुप्तचरों के!!                            
(2)सादगी पूर्ण जीवन शैली पक्के सिद्धान्त वादी.                     (3)बेजोड़ रणनिति कार.            
 (4)कोई भी दाग धब्बा व भ्रष्टाचार का आरोप नही.                
(5)सर्व वर्ग के विकास पर हमेशा विचार विमर्श करने वाले.      
(6)मिशन 2018 किसान सरकार में विश्वासनिय पथ की और.                                       (7)राजस्थान के हर वर्ग प्रत्येक समुदाय में जान पहचान.
(8)किसानों के हित में सदैव तत्पर खड़े रहने वाले.    
(9)निसर्वाथ भाव से कार्य करने वाले.
(10)मजबूत और विश्वास मित्र युवाओं की टीम का नेतृत्व करने वाले.
(11) 40 साल का राजनितिक तर्जुबा.
(12) किसी भी किमत पर कॉग्रेंस भाजपा भ्रष्टवादी सरकार को नहीं अपनाया.
(13)साफ सूथरी छवी निर्डरता से कार्य करने वाले.
(14) जातिवाद य…

महाविद्यालयों की सची बात

जीवन में पहली बार मिला देखने को एक ऐसा चुनाव जिसमें विजश्री का प्रचम लहराया सर्व समाज की एकता नें

36 कोम की एकता से कल छात्र संघ चुनाव में डीडवाना बांगड़ कॉलेस से अध्यक्ष पद से भाई #हरलाल_बरवड़ उपाध्यक्ष पद से #अंकिता_डारा व राजस्थान विश्वविद्यालय से बड़े अध्यक्ष पद से विनोद जाखड़ ने विजयश्री प्राप्त की बहूत बहूत बधाई एंव शभकामनाएं!!

साथियों जिस तरह हमने 36 कौम की एकता बनाकर छात्रसंघ चुनाव में निर्दलिय प्रत्याक्षीयों को विजयी बनाये अगर यही एकता हम आने वाले आगामी विधानसभा चुनाव में 36 कौम एकता रखकर निर्दलिय उम्मीदवारों को विजयी बनायेंगे तो यह जातिवाद का जहर हमेशा हमेशा के लिए खत्म हो जायेगा और हम सब एक समान्तर रूप से सादगी जिन्दगी जीने लगेंगे!!

इसिलिए सभी से निवेदन करता हूं हार जीत तो होती रही है मगर जो इस चुनाव मे हूई है इससे हमें एक सब्क सिखने को मिला है की हमें अब एकता की जरूरत है और यही एकता एक महान राष्ट्र का निर्माण कर सकती है!!


कांग्रेस का सच क्या है

#राफेल_घौटाला_या_कॉग्रेंस_की_कुटनिति_चाल

राफेल✈ का मामला असली में हैं क्या, लास्ट लाइन तक जरूर पढ़ें, तभी समझ मे आ पायेगा

बात शुरू होती हैं वाजपेयी सरकार से तब अटलजी के विशेष अनुरोध पर भारतीय वैज्ञानिकों ने ब्रम्होस 🚀मिसाइल तैयार की थी जिसकी काट आजतक दुनियां का कोई देश तैयार नही कर सका हैं। विश्व के पास अबतक ऐसी कोई टेक्नोलॉजी नही जो ब्रम्होस 🚀को अपने निशाने पर पहुंचने से पहले रडार पर ले सके। अपने आप मे अद्भुत क्षमताओं को लिये ब्रम्होस 🚀ऐसी परमाणु मिसाइल हैं जो 8000 किलोमीटर के लक्ष्य को मात्र 140 सेकेंड में भेद सकती हैं। और चीन के लिये यह लक्ष्य भेदन क्षमता ही सिरदर्द बनी हुई हैं। न चीन आजतक 🚀ब्रम्होस की काट बना सका हैं न ऐसा रडार सिस्टम जो ब्रम्होस🚀 को पकड़ सके।

अटलजी की सरकार गिरने के बाद सोनियां के कहने पर कांग्रेस सरकार ने ब्रम्होस🚀 को तहखाने में रखवाकर आगे का प्रोजेक्ट बन्द करवा दिया जिसमें ब्रम्होस🚀 को लेकर उड़ने वाले फाइटर जेट विमान तैयार करने की योजना थी जो अधूरा रह गया। दस वर्षों बाद जब मोदी सरकार आई तब तहखाने में धूल गर्द में पड़ी ब्रम्होस🚀 को संभाला गया वह भी तब! जब म…

ड्राइवर की कीमत

ड्राइवर की कीमत
​ड्राइवर की  हिम्मत​
कभी कम नहीं हो ...सकती

दिल तो आशिक तोडते है साहब,
हम तो सडको के रखवाले हैं  
              रिकॉर्ड तोडते हैं...!

अंजाम की फिक्र
     तो कायरों को होती है,  

हम तो *ड्राइवर *है,
जहाँ ​​Risk​​ होता है,
  वहाँ हमारी ​Entry Fix​  होती है..


​कैसे सोती होगी वो हर माँ​
जिसे पता है की
    उसका बेटा गाडी चला रहा है

​कैसे कमाता होगा वो हर पिता​
जिसका बेटा बारिश के
    तुफानो मे भी गाड़ी चलाता है

​केसे चहकती होगी वो हर बहन​
जिसके भाई का इंतजार
     हेवी पावर गाडीया कर रही हैं

​कैसे काम करता होगा वो हर भाई​
जो उसके आने का
        इंतजार कर रहा हो

​कैसे जीती होगी वो नारी​
जिसका सिंदूर कभी भी
             मिट सकता हे

​कैसे रहते होंगे वो हर दोस्त​
जिनका यार कभी भी
       108 मे आ सकता हैं.......
एक ड्राइवर
अच्छा लगे तो आगे भेजे *
  =*आल इंडिया ड्राइवर एसोशियेसन*=

जानाजी महाराज का मेला

जानाजी महाराज की धाम आछोजाई गांव के पहाड़ों मे है । जानाजी महाराज के चेले श्री चेतनगीरीजी महाराज थे। उनकी भी मूर्ति जानाजी महाराज के पास में ही है। उनके  शिष्य श्री जयराम गिरी जी महाराज है । मंदिर की सेवा श्री जयराम गिरी जी महाराज हि करते हे जानाजी महाराज का मेला  भादवा की पुनम का आछोजाई गांव मे भरा जाता है ।  जानाजी महाराज के  कही बड़े बड़े  चमत्कार भी कीए हुए है । यह धाम डेगाना से करीब 25 किलोमीटर दूरी पर हे ।  जानाजी महाराज की जय हो । । । ।

शिव शंकर भोले नाथ की गुफा इस गुफा मे आज भी होते है चमत्कार

Image
राजस्थान के नागौर जिले के पुंदलोता गांव की पहाङियो मे स्थित शिव शंकर की गुफा मे  चर्म रोग का ईलाज होता है गांव के निवासीयो के अनुसार यह गुफा कही सालो पुरानी है।गुफा कि चढाई कम कम 600 फिट कि ऊंचाई पर हे यहां पर बहुत दुर दुर से आये जातरूओ की लम्बी कतार लगती हे ।यहां पर शिवरात्री को बहुत  ही बडा मॆला लगता हे । माना जाता हे कि इस गुफा कि शुरुआत यहां से लेकर पुष्कर घाट तक मानी जाति हे और माना जाता हे की प्राचीन समय मे किसी अच्छे इंसान को शंकर भगवान ने दर्शन दिये थे उसी समय से इस गुफा का नाम शिव गुफा रख दिया था।  यह 600 फिट कि ऊचांई पर कोई वाहन नही जाता हे यहां पर जात्रु पैदल ही जाते हॆ । जय भोले नाथ की।।।।।।